क्या सीता ने किसी मर्यादा का उल्लंघन किया था?

क्या लक्ष्मण-रेखा उसे मर्यादित रखने के लिए खींची गयी थी, या उसकी रक्षा के लिए?

यदि कोई स्त्री मर्यादा का उल्लंघन करती भी है, तो उसे दंड देने का अधिकार किसे है?

किसी पाशविक प्रवृत्ति वाले पुरुष को? या उस समाज को, जो उसकी रक्षा नहीं करता?

 

Advertisements